COVID-19 PENSION YOJNA 2021

COVID-19 PENSION YOJNA: प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना महामारी के चलते गरीब परिवार के लोगो को एक राहत दी है. दिनांक 29मई 2021को उन्होने कहा की corona virus कि वजह से अगर किसी भी परिवार के earning member की अगर मृत्यु हों जाती है जो ESIC का कर्मचारी है तो उसके परिवार के अन्य सदस्यों को उसकी माता को ओर उसकी पत्नी को आजीवन पेंशन दी जाएगी, उसके पुत्र को 25वर्ष कि आयु तक ओर उसकी पुत्री को जब तक उसकी शादी नहीं हों जाती तब तक हर महीने ESIC की ओर से रु1800 पेंशन मिलेगी जो की उस मृतक सद्स्य के हर महीने की selery का 90%होगा

केंद्र सरकार ने कोविड-19 के चलते जान गंवाने वालों के परिवारजनों को पेंशन दिए जाने के साथ कई अन्य सुविधा भी उपलब्ध कराई जा सकेगी ESIC के कोविड अस्पताल में मुफ्त सुविधा मिलेगी। और साथ हीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से एक बयान जारी किया जिसमे कहा गया कि आश्रितों के लिए पेंशन के अलावा सरकार कोविड-19 महामारी से प्रभावित परिवारों के लिए बढ़ा हुआ, उदारीकृत बीमा मुआवजा सुनिश्चित करेगी। और मृतक के बच्चों को higher education के लिए loan भी मिल सकेगा।

ESIC क्या है

ESIC का पुरा नाम है employees States insurance corporation ( कर्मचारी राज्य बीमा निगम) ESIC सरकार के द्वारा बनाई गई एक बीमा योजना है उन कर्मचारियों के लिए जो सरकारी और निजी कार्यालयों में काम करते है और जिनका महिने का वेतन 20000 या उससे कम है उन कर्मचारियों के लिए यह योजना बनाई गई है। ESIC (Employees State Insurance Corporation) कर्मचारी राज्य बीमा निगम एक ऐसी व्यवस्था है,जो प्राइवेट सेक्टर में नौकरी कर रहे कर्मचारियों के लिए स्वास्थ्य बीमा कि सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है| कोई भी निजी कार्यालय जिसमें 10 या 20 से अधिक कर्मचारी काम करते है हैं,वह कार्यालय ESIC के अंदर आता है| औरउसमें सभी कर्मचारियों को ESIC द्वारा स्वास्थ्य बीमा कितरफ से मुफ्त अस्पताल कि सुविधा प्रदान कारवाई जाती है|इसके लिए कर्मचारी को ESIC में नाम मात्र का अंशदान करना पड़ता है| ESIC के अंतर्गत जमा होने वाला वेतन कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा ESIC एक्ट 1948 के दिशा निर्देशों के अनुसार प्रबंधित किया जाता है और कर्मचारी राज्य बीमा निगम भारत सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अधीनस्थ है| और उस कर्मचारी को ओर उसके परिवार को ESIC का card दिया जाता हैं ताकि उस Card के आधार पर ESIC अस्पताल में उनका इलाज किया जाता हैं।

ESICके क्या फायदे है

ESIC बीमा योजना की ओर से कर्मचारी और उसके परिवार को मेडिकल सुविधाएं दी जाती हैं. तबियत खराब होने पर मुफ्त अस्पताल के इलाज की सुविधा मिलती है. ESIC की डिस्पेंसरी और अस्पताल में उन कर्मचारियों का मुफ्त इलाज होता है. गंभीर बीमारी होने पर प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया जाता है. प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती होने पर अस्पताल का सारा खर्चा ESIC द्वारा उठाया जाता है. ताकि उसके परिवार पर खर्चे का बोझ ना पड़े और उन्हे मदद मिल सकें। और अगर उस कर्मचारी कोई गंभीर बीमारी होती है तो उस बीमारी के चलते वह नौकरी करने कि हालत में नहीं या वह नौकरीकरने मेंअसमर्थ है तो ऐसे हालात में ESIC उस कर्मचारी को उसके वेतन का 70% हिस्से का भुगतान करेगी. अगर कर्मचारी किसी वजह से विकलांग हो जाता है तो उसे उसके वेतन का 90% दिया जाएगा. स्थाई रूप से किसी भी तरह कीडिसेबिलिटी होने पर जीवनभर के वेतन का 90% भुगतान मिलेगा. और अगर उसकी मृत्यु हों जाती है तो उसके अंतिम संस्कार का खर्चा भी ESIC द्वारा दिया जाता है। यह फायदे हैं ESIC क्रमाचारियो के ताकी उन्हे कुछ मदद मिल सके।

4 thoughts on “COVID-19 PENSION YOJNA 2021”

Leave a Comment