ABY

ABY प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना 2020

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना(ABY)

Table of Contents

 

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना(ABY)

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना(ABY) :-आयुष्मान भारत योजना या प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना भारत सरकार की एक स्वास्थ्य योजना है। इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों खास तौर पर बीपीएल धारको को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध करवाना है। इस योजना के अंतर्गत आने वाले प्रत्येक परिवार को 5 लाख रुपए तक का केस रहित यानी कैशलेस स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जाएगा।

आयुष्मान भारत योजना(ABY) के अंतर्गत देश के लगभग 10 करोड़ परिवारों को सालाना 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा मिल रहा है।

 आयुष्मान भारत योजना(ABY) का उद्देश्य:-

मोदी सरकार ने प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अर्थात आयुष्मान भारत योजना(ABY) की घोषणा की है। इसे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर 25 सितंबर 2018 से देशभर में लागू कर दिया गया है। प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना का मुख्य उद्देश्य गरीब एवं आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध करवाना है।

सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना 2011 के अनुसार ग्रामीण इलाके के 8.03 करोड़ परिवार और शहरी इलाके के 2.33 करोड़ परिवार आयुष्मान भारत योजना के दायरे में आएंगे इस प्रकार आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत कुल 50 करोड लोग आएंगे।

इस योजना में प्रमुख दो तत्व शामिल हैं

एक राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना(NHBY) जो अब आयुष्मान भारत योजना में शामिल कर दी गई हैं। इसके तहत सरकार 10 करोड़ गरीब और कमजोर वर्ग के परिवारों के लगभग 50 करोड लोगों को कवरेज करेगी और यह योजना हर परिवार के लिए प्रतिवर्ष 5 लाख रुपए तक अस्पताल में देखरेख का कवरेज प्रदान करती है।

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना में कैसे मिलेगा कवरेज..?

  • केंद्र सरकार की कोशिश यह रहेगी की महिला,बच्चे और सीनियर सिटीजन को आयुष्मान भारत योजना(ABY) में खास तौर पर शामिल किया जाए।
  • आयुष्मान भारत योजना(ABY) में शामिल होने के लिए परिवार कितना बड़ा है और उम्र का कोई प्रतिबंध नहीं है।
  • आयुष्मान भारत योजना(ABY) के लाभार्थियों का इलाज सरकारी अस्पताल और पैनल में शामिल अस्पतालों में केशलेस/पेपरलेस हो सकेगा।

 आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाको के लिए योग्यता :-

सामाजिक-आर्थिक जाति जनगणना(SECC) के आंकड़ों के अनुसार ग्रामीण इलाके की आबादी में D1,D2,D3,D4 ,D5 और D7 कैटेगरी के लोगों को आयुष्मान भारत योजना में शामिल किया है।

इस योजना में शामिल होने के लिए मोटे तौर पर निम्न योग्यताएं हैं:

1. कच्चा मकान,परिवार में कोई व्यस्क नहीं हो, परिवार की मुखिया महिला हो, परिवार में कोई दिव्यांग हो,अनुसूचित जाति/जनजाति से हो और भूमिहीन व्यक्ति या फिर दिहाड़ी मजदूर हो.

2.इसके अलावा बेघर व्यक्ति,दान या भीख मांगने वाले आदिवासी और कानूनी रूप से मुक्त बंधुआ आदि खुद आयुष्मान भारत योजना में शामिल हो जाएंगे।

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत शहरी इलाके के लिए योग्यता:-

शहरी इलाके में पूर्व निर्धारित पेशे/कामकाज के हिसाब से लोग आयुष्मान भारत योजना(ABY) में शामिल हो सकते हैं. इसके लिए निम्न योग्यताएं हैं:-

1.भिखारी,कूड़ा बीनने वाले,घरों में काम करने वाले,रेहड़ी पटरी दुकानदार,मोची, फेरीवाले वाले,सड़क पर काम करने वाले अन्य व्यक्ति।
2.किसी कंस्ट्रक्शन साइट पर काम करने वाले मजदूर,प्लंबर,राज मिस्त्री,मजदूर, पेंटर,वेल्डर,सिक्योरिटी गार्ड,कुली और भार ढोने वाले अन्य व्यक्ति।
3.सफाई कर्मी,घरेलू काम करने वाले, हैंडीक्राफ्ट का काम करने वाले लोग,टेलर, ड्राइवर,रिक्शा चालक,दुकान पर काम करने वाले लोग आदि आयुष्मान भारत योजना में शामिल होंगे।

आयुष्मान भारत योजना(ABY) के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती की प्रक्रिया:-

1.इस योजना के अंतर्गत अस्पताल में भर्ती होने के लिए लाभार्थी को कोई शुल्क नहीं देना होगा। अस्पताल में भर्ती होने के पश्चात इलाज का सारा खर्चा इस योजना के अंतर्गत कवर किया जाएगा।
2.आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत लाभार्थी के अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्च भी कवर किए जाएंगे।
3. इस योजना के अंतर्गत पैनल में शामिल हर अस्पताल में एक आयुष्मान मित्र होगा वह मरीजों की मदद करेगा
और मरीजों को अस्पताल की सुविधाएं दिलाने में मदद करेगा।
4. अस्पताल में एक हेल्प डेस्क भी होगा जो दस्तावेजों को चेक करने तथा स्कीम में नामांकन के लिए वेरिफिकेशन में मदद करेगा।
5. आयुष्मान भारत योजना में शामिल व्यक्ति देश के किसी भी सरकारी/पैनल में शामिल निजी अस्पताल में अपना इलाज इस योजना के माध्यम से करा सकेगा।

आयुष्मान भारत योजना में रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया :-

आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए वैसे तो किसी प्रकार का कोई रजिस्ट्रेशन नहीं करना होगा क्योंकि जनगणना 2011 के अनुसार बीपीएल यानी जितने भी परिवार गरीबी रेखा से नीचे आते हैं वे सभी इस योजना के लिए रजिस्टर हो चुके हैं। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का चयन सरकार द्वारा किया जाएगा जिसके लिए सरकार ने अपनी वेबसाइट भी शुरू की है। सरकार द्वारा चुने गए व्यक्ति इस वेबसाइट पर जाकर लिस्ट में अपना नाम देख सकते हैं और इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन हुआ है या नहीं ?

इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको सरकार द्वारा दी गई वेबसाइट पर जाना होगा और होम पेज पर आपको एक ऑप्शन मिलेगा जिसमें आपको अपना मोबाइल नंबर डालना है मोबाइल नंबर डालने पर आपके मोबाइल पर एक ओटीपी नंबर आएगा उस ओटीपी नंबर को डालते ही आपको पता चल जाएगा कि आपका रजिस्ट्रेशन हुआ है या नहीं। इसके अलावा आप 14555 हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके भी रजिस्ट्रेशन के बारे में पता कर सकते हैं।
इसके अलावा आप अपने नजदीक के अस्पताल में जाकर भी पता कर सकते हैं।’

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत किन बीमारियों का इलाज करवा सकते हैं…?

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत maternal health, डिलीवरी की सुविधा,नवजात एवं बच्चों के स्वास्थ्य सुविधा, संक्रामक और असंक्रामक रोगों की सुविधा इसके साथ ही आंख,नाक,कान,गले से संबंधित बीमारी के लिए अलग से यूनिट होगी और इस योजना के तहत इन सभी बीमारियों का इलाज फ्री किया जाएगा। और साथ ही बुजुर्गों का इलाज भी इस योजना के अंतर्गत फ्री किया जाएगा |

प्रधानमंत्री जनधन योजना 2020 ( PMJDY )

1 thought on “ABY प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना 2020”

Leave a Comment